स्थलाकृति

छिंदवाड़ा जिला जंगलों से घिरा हुआ है और इसे दो श्रेणियों में घने जंगल और विरल जंगल में वर्गीकृत किया गया है। घने जंगल जिले के पूर्वी और पश्चिमी भाग तक ही सीमित है। विरल वन सघन वन क्षेत्र से लगे हुए क्षेत्र है, इस भूमि का उपयोग अन्‍य कार्यो में भी होता है। मिट्टी के पांच प्रकार जिले में मौजूद हैं। जलोढ़ मिट्टी आमतौर पर नदियों और नदियों से लगे हुए क्षेत्रो में पाई जाती है। रेतीली मिट्टी जिले केे कन्‍हान एवं पेंच नदी के तटीय क्षेत्रो में पाई जाती है। लैटराइड मिट्टी जिले के पूर्वी और दक्षिण-पश्चिमी भाग में होती है। काली मिट्टी जिले के केंद्रीय, उत्तरी और दक्षिणी भागों में पाई जाती है।